Tension Door Karne Ke Upay

Tension Door Karne Ke Upay

Tension Door Karne Ke Upay , ” Is Manav Jindgi Me Jindgi Sadev Ek Jesi Nahi Rahti Hai. Aaye Din Nayi-Nayi Chunotiyaa  Aati Rehti Hai. Jivan Bhar Tamam Utar Charaav Ka Samna Karna Parta Hai. Visheskar Yuvaaavstha Ke Baad Paravarik,Samajik,Aarthik Dabav Kafi Bad Jata Hai. In Dabav Orr Mansik Chinta Ka Hamare Man Per Bhut Particool Parbhav Parta Hai. Yaha Per Hum Kuch Ese Upay Batane Ja Rahe Hai Jinko Karke Nichit Roop Se Dabav,Chintao Ko Door Kiya Ja Sakta Hai.

भय, चिन्ताओं और मानसिक परिशानियों को दूर करने के लिए कपूर का एक छोटा सा उपाय अवश्य ही करें । आप जिस कमरे में सोते हों, उस कमरे में कपूर का एक लैंप जलाएं। अगर घर पर कपूर का लैम्प ना हो तो वैसे ही किसी भी दीये अथवा बर्तन में कपूर जला दिया करें, इससे समस्त भय दूर होते है, परेशानियों से छुटकारा मिलता है, पिछले जन्म के पाप कट जाते हैं और परिस्थितियां अनुकूल होने लगती हैं।

Tension Door Karne Ke Upay

किसी भी तरह की मानसिक परेशानियों को दूर करने के लिए प्रतिदिन हनुमान चालीसा का पाठ करें । प्रत्येक शनिवार को शनि मंदिर में जाकर शनि देव को तेल चढायें । छह माह में कम से कम एक बार अपनी पहनी हुई एक जोडी चप्पल जो बहुत ख़राब ना हो किसी गरीब को दान अवश्य ही करें । इससे चिंताएं दूर होंगी मानसिक शान्ति और ऊर्जा की प्राप्ति होती ।

कई बार पारिवारिक, आर्थिक या अन्य कारणों से दिमाग बहुत ही उत्तेजित हो जाता है, चिंताएं दिल और दिमाग पर हावी हो जाती है , ऐसा लगने लगता है कि घबराहट, गुस्से या दबाव या किसी मानसिक परेशानी / सोच से दिमाग बिलकुल फ़ट पडेगा, अपने पर काबू नहीं रहता है।ऐसी परेशानी में एक लोटे में या जग में पानी लेकर उसके अन्दर चार लालमिर्च के बीज डालकर अपने ऊपर सात बार उबारा (उसारा) करके उस जल को घर के बाहर सडक पर फ़ेंक दें , दिमाग से बोझ कम होने लगेगा तुरंत आराम मिल जायेगा।

शनिवार के दिन हनुमान मंदिर में जाकर पूर्ण श्रद्धा से हनुमान जी की आराधना कर उनके कंधे अथवा चरणों से सिंदूर उसे अपने माथे पर लगाने से आत्मविश्वास बढ़ता है सभी तरह की चिंताएं, परेशानियाँ दूर होती है।

Tension Door Karne Ke Totke

मानसिक दबाव , किसी भी तरह की चिंताओं से मुक्ति पाने के लिए नित्य प्रांत: सूर्य देव को ताम्बे के बर्तन में लाल चन्दन, अक्षत, गुड़ तथा लाल पुष्प डालकर अर्घ्य दें और उनसे अपनी परेशानियों को दूर करने के लिए प्रार्थना करें ।

चाहे कैसी भी परिस्तिथि क्यों ना हो घर के किसी भी सदस्य पर अपनी झल्लाहट , अपना गुस्सा ना निकालें ना ही अपनी किसी भी परेशानी के लिए उन्हें दोष दें । सदैव घर से बाहर जाते समय अपने माता-पिता के चरण छूकर उनका आशीर्वाद लेकर ही जाएँ और घर पर वापस लौटते समय खाली हाथ ना आएं कुछ ना कुछ चाहे कागज ही क्यों ना हो साथ लेकर आएं । जिस घर में बड़े – बुजुर्गो और स्त्रियों को पूर्ण सम्मान मिलता है उस घर परिवार से समस्त चिंता ,सभी संकट दूर रहते है ।

यदि दिमाग पर किसी बात की चिन्ता रहती हो तो रविवार को छोड़कर नियमित रूप से पीपल की सेवा करें । शनिवार को पीपल के पेड़ पर दूध और काले तिल मिश्रित मीठा जल चढ़ाने और बाकि दिन सादा जल चढ़ाने एवं शनिवार को संध्या के समय पीपल पर कड़वे तेल अथवा तिल के तेल का चौमुखा दीपक जलाने से समस्त मानसिक चिंताएं दूर होती है , कुंडली के ग्रह अनुकूल फल देने लगते है ।

किसी विशेष कार्य से जाते हुए , घर से बाहर निकलते ही भगवान विष्णु का ध्यान करते हुए दाहिने हाथ की हथेली पर 2 इलाइची रखकर तीन बार श्री श्री श्री का उच्चारण करके उसे खा लें , इससे मार्ग में विघ्न नहीं आते है कार्यों में सफलता मिलने की सम्भावना बढ़ जाती है।

ALL PROBLWM SOLUTION

  • Marriage problem solution
  • Love marriage specialist
  • Divorce specialist
  • Save marriage
  • Lal kitab ke totke
  • Klai kitab ke totke
  • Mantra to convince parents
  • Jyotish upay for love mattiage
  • Love marriage solution
  • Divorce problem solution
  • Inter caste love solution
  • Spells of love
  • Spells for magic
  • Strong vashikaran mantra
  • Powerful love spells
  • spells specialist
  • Depression ke upay
  • Tanve se mukti in hindi
  • Tension door karne k upay

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *